Meri Fasal – Mera Byora Yojana : किसानों( Farmer ) के हित में कई योजनाएं चलाई जा रही हैं। हरियाणा सरकार ने किसानों के लिए मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना ( Meri Fasal – Mera Byora Yojana ) भी शुरू की है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर मेरी फसल ( Crop ) मेरा ब्योरा योजना के प्रभारी हैं।

Meri Fasal – Mera Byora Yojana

Meri Fasal - Mera Byora Yojana

Meri Fasal – Mera Byora Yojana

हरियाणा में किसान ( Farmer ) इस योजना के तहत ऑनलाइन पंजीकरण और फसल का पूरा विवरण प्रदान कर सकते हैं। किसान इस समय रबी फसल की बुवाई में व्यस्त हैं, लेकिन अच्छी खबर यह है कि हरियाणा सरकार ने मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना ( Meri Fasal – Mera Byora Yojana ) पोर्टल पर किसानों के लिए पंजीकरण शुरू कर दिया है। आइए चर्चा करते हैं कि किसान इस ( Crop )  योजना से कैसे लाभान्वित हो सकते हैं।

Meri Fasal – Mera Byora Portal  पर पंजीकरण प्रक्रिया

रबी सीजन के दौरान फसल ( Crop ) बोने वाले किसान मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीकरण कर सकते हैं। हरियाणा सरकार द्वारा रबी फसल पंजीकरण प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। जिन किसानों ( Farmer ) ने इस पोर्टल पर पंजीकरण कराया है, उन्हें उनकी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) मिलेगा। अगर किसान मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना ( Meri Fasal – Mera Byora Yojana ) का लाभ लेना चाहते हैं, तो उन्हें मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना की वेबसाइट fasal.haryana.gov.in पर जाना होगा। फसल पंजीकरण के लिए अब परिवार पहचान पत्र की आवश्यकता है।

 मेरी फसल – मेरा ब्योरा पोर्टल क्या है?

हरियाणा सरकार इस पोर्टल के माध्यम से किसानों को बीमा कवरेज, प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल ( Crop ) मुआवजा और अन्य सेवाएं प्रदान करती है। किसानों को कहीं जाने की जरूरत नहीं है। किसान ( Farmer ) बस मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना की विशिष्ट विशेषता यह है कि किसानों को सभी सरकारी सुविधाएं एक ही स्थान पर मिलेंगी।

मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना के लाभ –

इस मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना ( Meri Fasal – Mera Byora Yojana ) पर पंजीकृत किसानों को विभिन्न प्रकार की सरकारी सेवाओं तक पहुँच प्राप्त होती है। इसके अलावा, उत्पादकों ( Crop )  को प्रोत्साहन और सब्सिडी से लाभ होता है। इसके अलावा, यह उन्हें न्यूनतम समर्थन मूल्य पर अपनी फसल बेचने में सहायता करता है।यह पोर्टल किसानों ( Farmer ) को उर्वरक, बीज, फसल ऋण और कृषि मशीनरी सब्सिडी के साथ-साथ आपदा के कारण फसल नुकसान के मुआवजे की जानकारी भी प्रदान करता है।

जो किसान अपनी फसल ( Crop )  को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेचना चाहते हैं, वे अपना विवरण मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर दें। यह पोर्टल रबी फसल के लिए खोल दिया गया है। किसान ( Farmer ) जल्द से जल्द इस पोर्टल पर अपना पंजीकरण कराएं। कृषि एवं कल्याण विभाग नारनौल के डीडीएडीए वजीर सिंह ने बताया कि हर साल की तरह इस साल भी किसानों को मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर अपनी फसल का पंजीकरण कराना होगा !

कई फसलों का कर सकतें है पंजियन

किसान यह मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना ( Meri Fasal – Mera Byora Yojana ) जिस्ट्रेशन मोबाइल से या कॉमन सर्विस सेंटर से खुद करवा सकता है। उन्होंने कहा कि सरकार ने रबी सीजन 2021-22 के लिए ‘मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल’ पर गेहूं, सरसों, दाल, सूरजमुखी, चना और जौ बेचने के इच्छुक किसानों ( Farmer ) के लिए पोर्टल खोल दिया है। इस पोर्टल के माध्यम से किसानों को अपनी फसल ( Crop )  बोने से लेकर मंडियों में बिक्री तक की मदद मिलेगी।

मेरी फसल-मेरा ब्योरा पोर्टल किसानों को फसल बेचने, फसलों ( Crop ) के मुआवजे और सरकारी योजनाओं का लाभ लेने में कारगर साबित हो रहा है। मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना ( Meri Fasal – Mera Byora Yojana ) की वजह से पिछले तीन साल से उत्तर प्रदेश, पंजाब और राजस्थान से फसल लाने और हरियाणा की मंडियों में बेचने पर रोक लगा दी गई है. इससे राज्य के किसानों ( Farmer ) को मंडियों में अपनी फसल बेचने में आसानी हुई है ।

यह भी जानें :- 

PM Kisan Yojana Date : इस तारीख को मिलेगी 12 वीं क़िस्त , किसान ऐसे चेक करें स्टेटस

e-SHRAM Card Payment Available : श्रमिकों के खातें में आएँ 1-1 हज़ार , ऐसे चेक करें स्टेटस

PM Mudra Loan Yojana 2022 Update : मुद्रा योजना में ले सकतें है 10 लाख का लोन, देखें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *